August 7, 2022

newshindi.co.in

hindi news

Elon Musk को मिला भारत में प्लांट लगाने का न्योता। हिंदी न्यूज़।

न्यू इंडिया में पेट्रोल और डीज़ल का कारो की बजाय इलेक्ट्रिक गाड़ियों की ज्यादा जरुरत है इसके लिए सरकार भी कई विदेशियों कंपनियों से भारत में इलेक्ट्रिक कारो में मैनुफैक्ट्रिंग पर जोर दे रही है इन में से एक Tesla भी है टेस्ला 2019 से भारत में एंट्री को लेकर काम कर रही है लेकिन भारत में अपनी कार लांच को लेकर टेस्ला को बहोत सी चुनोतियो का सामना करना पड़ रहा है हलाकि टेस्ला के एक उम्मीद की किरण देश के अलग अलग राज्यों से आ रही है। महाराष्ट्र, तेलगाना, पश्चिम बंगाल टेस्ला को अपने यहाँ काम करने का न्योता दे रहे है।

महाराष्ट्र के मंत्री जयंत पाटिल ने Musk को राज्य में मैनुफैक्टरिंग प्लांट लगाने का ऑफर दिया है वही तेलगाना के मिनिस्टर के टी रमा राव ने राज्य में दुकान बनाने का ऑफर दिया और पश्चिम बंगाल सरकार ने टेस्ला को मैनुफैक्टरिंग प्लांट लगाने का ऑफर दिया है। इन न्योतो से musk को कुछ उम्मीद जरुरत बनेगी लेकिन अभी राह इतनी आसान नहीं, दरसल elon musk और केंद्र सरकार के बीच स्थानिक फैक्ट्री को लेकर बातचीत अभी अटकी हुई है। musk चाहते है भारत सरकार टेस्ला को छूट दे। टेस्ला की गाड़ियों पर लगने वाला इम्पोर्ट ड्यूटी को काम करे, लेकिन सरकार का कहना है की वो किसी ऑटो मोबाइल कंपनी को ऐसी छूट नहीं दे रही है और टेस्ला फीस में फायदा देने से भारत में अरबो डॉलर का निवेश करने वाली दूसरी कंपनियों को अच्छा सन्देश नहीं जायेगा। टेस्ला के कारो की कीमत इतनी ज्यादा है की एक model को छोड़कर बाकी सभी पर 100% इम्पोर्ट ड्यूटी लगती है। टेस्ला की सबसे सस्ती कार 3 स्टैंडर्ड प्लस मॉडल है इसकी कीमत 60000 डॉलर से काम है ऐसे कार पर 60% इम्पोर्ट ड्यूटी चुकानी होगी, हलाकि टेस्ला के CEO ने एक ट्वीट के जरिए सरकार से टेस्ला की कारो पर इम्पोर्ट ड्यूटी घटाने का अनुरोध किया था। musk ने इलेक्ट्रिक कारो पर आयात शुल्क घटाकर 40% करने का अनुरोध किया था टेस्ला का मानना है की अगर भारत सरकार इलेक्ट्रिक कारो पर 20% इम्पोर्ट ड्यूटी घटा दे तो ये कारे काफी सस्ती हो सकती है। शुरुवात में टेस्ला का प्लांट कार अस्सेम्ब्ल करके बेचने का है लेकिन बाद में टेस्ला भारत में ही उन्ही कारो की मैनुफैक्टरिंग शुरू कर सकती है।