August 19, 2022

newshindi.co.in

hindi news

1 दिन में Elon Musk के 2 लाख करोड़ रूपये हो गए स्वाहा। हिंदी न्यूज़।

शेयर मार्किट;

पिछले कोरोना काल के दौरान दुनियाभर के अरबपतियों की सम्प्पतियो खुप इजाफा हुआ लेकिन अब तक साल 2022 उनके लिए बुरा साबित हो रहा है, क्यों की नए साल में इनकी सम्प्पति में जबरजत गिरावट देखने को मिली। इस महीनो दुनियाभर के करीब 500 अमीरो की सम्प्पति घाट गई’ बीते 25 दिनों में 47.62 लाख करोड़ घटकर 582 लाख करोड़ रह गई है, 3 जनवरी तक यह 630 लाख करोड़ थी। दरहसल 3 जनवरी से अबतक दुनियाभर के बाजारों में भारी उत्तल पुतल देखने को मिली है। उक्रेन और रूस के बीच टकराव विदेशी निवेशों का सावधान भरा निवेश और अमेरिका की सेंट्रल बैंक की ओर से इस साल चार से पांच बार ब्याज दर बढ़ने की उम्मीद से दुनियाभर के बाजारों में मउसी छाई हुई है।

एलान मुश्क;

बाजार की इस गिरावट में सबसे ज्यादा नुक्सान टेस्ला के मालिक एलान मुश्क उठाना पड़ा। bloomberg billionaires index के इतिहास में किसी आमिर की सम्प्पति एक दिन में ये चौथी सबसे बड़ी गिरावट है गुरूवार को मास्क सम्प्पति में 25.8 बिलियन डॉलर की कमी आई, मास्क की सम्प्पति घटकर 216 बिलियन डॉलर पर आ गई है। एक साल में उनकी सम्प्पति 54 बिलियन डॉलर की कमी गए, यानी मुकेश अम्बानी की जितनी सम्पत्ति है एलान मुश्क की सम्प्पति में 6 महीने में उतनी गिरावट आ चुकी है। सिर्फ एलान मुश्क ही नहीं बल्कि जेफ़ बेजोज, मार्क ज़ुकरबग, बर्नेट अर्नाल्ड, मुकेश अम्बानी, बिलगेट समेत कई अरबपतियों को काफी नुक्सान उठाना पड़ा।

मार्क ज़ुकेरबर्ग:

मार्क ज़ुकेरबर्ग की सम्प्पति इस साल 110 अरब डॉलर हो गई है जेफ्फ बेजोज की सम्प्पति 27 अरब डॉलर घटकर 164 अरब डॉलर हो गई है। बर्नेटअर्नाल्ड की सम्प्पति में 18.4 अरब डॉलर की कमी आई तो वही बिलगेट की सम्प्पति 11 अरब डॉलर की कमी आई और ये 127 अरब डॉलर रह गई है। दुनिया के दिक्क्ज निवेशक वारेन बुफेट मार्क ज़ुकरबग से आमिर बन गए है’ वे दुनिया के टॉप 10 में एक मात्र अमीर है जिनकी सम्प्पति इस साल बड़ी है।

मुकेश अम्बानी:

ग्लोबल बाजारों का स्तर भारतीय बाजारों पर भी देखने को मिला, बाजार की गिरावट का स्तर इस हप्ते दो दिन एशिया के सबसे अमीर बिजनेसमैन मुकेश अम्बानी दूसरे नंबर पर आ गए और गौतम अडानी पहले नंबर पर हो गए। अम्बानी की संम्पति में इस साल 15 हजार करोड़ की गिरावट आई ये 6.59 लाख करोड़ रह गई तो वही अडानी की सम्प्पति में 6 हजार करोड़ की कमी आई और ये 6.39 लाख करोड़ रह गई। गौतम अडानी को अडानी ग्रुप के शेयर में तेजी का फायदा मिला, अडानी ग्रुप की 6 कंपनियों भारतीय शेयर बाजार में रजिस्टर है।